Homeझारखंडझारखंड : 52 लड़के-लड़कियों को गोवा ले जाने की थी तैयारी, तस्करी...

झारखंड : 52 लड़के-लड़कियों को गोवा ले जाने की थी तैयारी, तस्करी का शक

झारखंड के रामगढ़ जिले में सोमवार की देर रात लड़के-लड़कियों से भरी एक बस को स्थानीय लोगों ने रोक दिया। बस में रांची जिले के सिल्ली और अनगड़ा क्षेत्र के 52 युवक-युवती सवार थे। इनमें 18 लड़के थे जबकि 34 ल़ॉकियां थीं। इन्हें काम दिलाने के नाम पर गोवा ले जाया जा रहा था। हालांकि, बस से उतारे गए लड़के-लड़कियों से बातचीत करने के बाद मामले मे मानव तस्करी का शक जाहिर किया जा रहा है। 

बताया जाता है कि कोरांबे बुध बाजार में रात आठ बजे युवतियों को बोलेरो वाहन से ला-लाकर जमा किया जा रहा था। स्थानीय लोगों को इस पर मानव तस्करी का संदेह हुआ। उन्होंने तत्काल इसकी जानकारी गोला थाने की पुलिस को दी। लोगों ने बताया कि युवतियों से जब पूछताछ हुई तो उन्होंने बताया कि उन्हें काम करने के लिए गांव से गोवा ले जाया जा रहा है। हालांकि वे यह नहीं बता पाईं कि उन्हें कौन ले जा रहा है।

लोगों ने बताया कि बोलेरो गाड़ी से 10-10 की संख्या में युवतियों को ला-लाकर वहां जमा किया जा रहा था। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस हरकत में आई और 10:30 बजे रात में कोरांबे बाजार पहुंच कर सभी को बस सहित थाने ले आई।  

स्थानीय लोगों ने बताया कि इससे पूर्व भी इन क्षेत्रों में सक्रिय एक महिला दलाल ने दर्जनों युवतियों को सुनहरे सपने दिखाकर गोवा और दूसरे प्रदेशों में ले जाकर बेच दिया था। रात के अंधेरे में इतनी बड़ी संख्या में युवतियों को बस से ले जाना संदेह पैदा कर रहा है।

क्या कहते हैं डीसी और एसपी
प्रशासन और पुलिस की टीम ने अभी मौके पर पहुंच कर जांच की है। 18 लड़के और 34 लड़कियां वहां पायी गई हैं। आगे की पूछताछ व जांच की जा रही है। – संदीप सिंह, उपायुक्त, रामगढ़

पुलिस को बड़ी संख्या में लड़कियों को कहीं ले जाने की सूचना मिली थी। तत्काल स्थानीय पुलिस पदाधिकारी मौके पर पहुंच गए। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है, जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। – प्रभात कुमार, एसपी रामगढ़

Most Popular