जम्मू-कश्मीर: COVID-19 के भय के बीच छात्रों की शंकाओं को दूर करने के लिए स्कूल दोबारा खोले गए

जम्मू. कोविड-19 महामारी (COVID-19) के चलते जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के स्कूल करीब छह महीने से अधिक समय तक बंद रहने के बाद सोमवार को बड़ी कक्षाओं (Higher Classes) के छात्रों (Students) के लिए दोबारा खोल दिए गए. हालांकि, कक्षा में कुछ ही छात्र उपस्थित रह सकते हैं. केंद्र शासित प्रदेश (Union Territory) के प्रशासन ने यह जानकारी दी. प्रधान सचिव (विद्यालयी शिक्षा एवं कौशल विकास) असगर हसन समून ने कहा कि स्कूलों (Schools) को दोबारा खोले जाने का आशय नियमित कक्षाएं (Regular Classes) शुरू करने से नहीं है.

जम्मू की विद्यायली शिक्षा (School Education) निदेशक अनुराधा गुप्ता ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘मैं रियासी जिले (Reasi District) के दौरे पर थी और विभिन्न स्कूलों में केवल पांच से सात छात्र ही उपस्थित थे और अपनी शिक्षा संबंधी अपनी शंकाओं को दूर करने के लिए शिक्षकों (teachers) के साथ विशेष बैठक कर रहे थे.’ उन्होंने कहा, ‘हमने नियमित कक्षाओं (Regular Classes) के लिए स्कूल नहीं खोले हैं. छात्रों की विषय संबंधी शंकाओं को दूर करने के लिए आंशिक तौर पर (partially) स्कूल दोबारा खोले गए हैं. स्कूल में उपस्थित रहने के दौरान छात्रों और शिक्षकों को कोविड-19 (COVID-19) बचाव संबंधी सभी सावधानियां बरतनी होंगी.’

जम्मू-कश्मीर में कोरोना वायरस संक्रमण के 1,036 नए मामले,23 लोगों की मौतस्कूलों को फिर से खोलने का सरकार का निर्णय नेशनल कांफ्रेंस और कांग्रेस सहित विपक्षी दलों की तीखी आलोचना के बाद आया, जिन्होंने महामारी के बीच कक्षा नौ से 12 तक के स्कूल खोलने के पीछे के औचित्य पर सवाल उठाया था.

यह भी पढ़ें: फिल्म सिटी को लेकर एक्टिव हुई योगी सरकार, रजनीकांत समेत 25 हस्तियों को बुलावा

जम्मू-कश्मीर में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 1,036 नए मामले सामने आए हैं और पिछले 24 घंटे में 23 और लोगों की मौत हुई है. अधिकारियों ने बताया कि केंद्रशासित प्रदेश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर अब 65,026 और मृतकों की संख्या बढ़कर 1,024 हो गई. नए मामलों में से जम्मू में 563 और कश्मीर घाटी से 473 मामले हैं.’