जद यू व लोजपा की तकरार को भाजपा नहीं दे रही है ज्यादा तवज्जो

bihar assembly elections  bihar assembly elections 2020  nda in bihar

बिहार में राजग के भीतर जदयू और लोजपा के बीच लगातार बढ़ रही तकरार को भाजपा ज्यादा तवज्जो नहीं दे रही है। पार्टी का मानना है कि सीटों के बंटवारे को अंतिम रूप देने के लिए जब सभी घटक दलों के नेता एक साथ बैठेंगे तो सारी समस्याओं का समाधान हो जाएगा। इस बीच लोजपा को जद यू ने भी करारा जबाब दिया है और कहा है कि जद यू का लोजपा से कभी गठबंधन नहीं रहा है।

लोजपा की एक दिन पहले हुई बैठक के बाद जद यू ने भी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। जद यू के महासचिव के सी त्यागी ने कहा है कि राजग घोषित तौर पर नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव लड़ने जा रहा है जिसकी बात भाजपा के शीर्ष नेता कह चुके हैं इसके बावजूद लोजपा का चुनाव में नेतृत्व बदलने की बात कहना गठबंधन के हितों के खिलाफ है। 

उन्होंने यह भी साफ किया कि जद यू का कभी भी लोजपा के साथ चुनावी समझौता नहीं रहा है। गौरतलब है कि भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा व गृह मंत्री अमित शाह साफ कर चुके है कि बिहार में गठबंधन के नेता नीतीश कुमार है और उनके नेतृत्व में ही चुनाव लड़ा जाएगा।

इस बीच भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा है कि गठबंधन राजनीति में हर दल ज्यादा सीटें और बेहतर सीटें हासिल करने की कोशिश में रहता है और यह लोकतांत्रिक प्रक्रिया में होना स्वाभाविक भी है। जब सभी दलों के नेता साथ बैठकर फैसला लेते हैं तो वह सबको मान्य होता है। सूत्रों के अनुसार संसद के मानसून सत्र के दौरान दिल्ली में राज्य के शीर्ष नेताओं की बैठक होगी जिसमें बिहार में सीटों के तालमेल को अंतिम रूप दिया जाएगा।