गौड़ाबौराम विधानसभा क्षेत्र : पहले चुनाव में पूर्व मंत्री हारे, दूसरे में विजेता के सिर मंत्री का ताज

गौड़ाबौराम विधानसभा क्षेत्र : पहले चुनाव में पूर्व मंत्री हारे, दूसरे में विजेता के सिर मंत्री का ताज

सत्ता और शक्ति दोनों का प्रमुख केन्द्र रही मिथिलांचल की इस सीट का राजनीतिक गलियारे में एक अलग मुकाम है। नाम गौड़ाबौराम। यहां कसरौड़ की मां ज्वालामुखी के मंदिर में हर साल हजारों भक्त शीष नवाते हैं। विस क्षेत्र में पग-पग बिछी चुनौतियों से पार पाने के लिए नेता भी कई मुरादें लिये आते हैं। अपने गठन के बाद पहले ही चुनाव में यह सीट वीआईपी बन गई। यहां की पहली चुनावी में जंग में राजद के कद्दावर नेता व पूर्व मंत्री डॉ. महावीर प्रसाद चुनाव हार गये। दूसरे चुनाव में जनता ने जिसे विधायक चुना वह मंत्री बन गये।
विधानसभा चुनाव की आहट मिलते ही नेताओं में चुनावी सुगबुगाहट बढ़ चली है। कमला नदी का बहाव क्षेत्र होने के कारण यहां पग-पग पर चुनौतियां हैं। वर्ष 2015 के चुनाव में यहां से जदयू के मदन सहनी ने लोजपा के विनोद सहनी को पराजित किया था। मदन सहनी को 51403 और विनोद सहनी को 37341 वोट मिले थे। मदन सहनी फिलहाल सूबे के खाद्य व आपूर्ति मंत्री हैं।
बीते विधानसभा चुनाव में जदयू ने अपने सीटिंग विधायक डॉ. इजहार अहमद का पत्ता काटकर बहादुरपुर के विधायक मदन सहनी को यहां जदयू-राजद महागठबंधन का उम्मीदवार बनाया था। डॉ. इजहार अहमद ने वर्ष 2010 के चुनाव में राजद के कद्दावर नेता और सूबे के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री डॉ. महावीर प्रसाद को हराया था। उस समय डॉ. इजहार अहमद को 32258 और डॉ. महावीर प्रसाद को 22656 वोट मिले थे।

परिसीमन से 2008 में बदला भूगोल
गौड़ाबौराम विधानसभा क्षेत्र वर्ष 2008 में अस्तित्व में आया। इससे पूर्व यह घनश्यामपुर विधानसभा क्षेत्र में था। परिसीमन में इस विधानसभा क्षेत्र में गौड़ाबौराम, किरतपुर तथा बिरौल प्रखंड की कुल 30 पंचायतों को शामिल किया गया। इस चुनाव के मद्देनजर पक्ष-विपक्ष के खेमे में अभी कई तस्वीरें धुंधली है। कई दिग्गजों की नजरें इस सीट पर गड़ी है। गठबंधन की राजनीति में कयासों का दौर तेज हैं। असली लड़ाकों के चेहरे नामों की अंतिम घोषणा के साथ सामने आयेंगे। तबतक जनता-जनार्दन के बीच अपनी पैठ बनाने की रेस शुरू है।  

कमला बलान से मचती तबाही
 यह विधानसभा क्षेत्र अब भी दरभंगा जिले के पिछड़े इलाके में ही गिना जाता रहा है। इसका कारण कमला बलान। नदी यहां हर साल तबाही मचाती है। बाढ़ आने पर बड़ी संख्या में लोग तटबंध या अन्य ऊंचे स्थानों पर शरण लेने के लिए विवश हो जाते हैं। इस साल भी क्षेत्र में यही दृश्य देखने को मिला है। इस समस्या का अब तक समाधान नहीं हो सका है।  

कुल वोटर 237767
पुरुष 124797
महिला 112970
प्रखंड 03
पंचायत 30

2008 में बने गौड़ाबौराम विधानसभा में चुनाव
वर्ष 2015 :
प्रत्याशी दल वोट
मदन सहनी जदयू 51403
विनोद सहनी लोजपा 37341
 
वर्ष 2010 :
 डॉ. इजहार अहमद जदयू 32258
डॉ. महावीर प्रसाद राजद 22656