Homeबिहारगैस कटर से एटीएम काटने की तैयारी में थे शातिर, तभी पहुंची...

गैस कटर से एटीएम काटने की तैयारी में थे शातिर, तभी पहुंची पटना पुलिस, और फिर…

राजधानी पटना में जक्कनपुर थाने की पुलिस सही समय पर पहुंच गई, वरना एटीएम से कैश चोरी होने की बड़ी वारदात हो जाती। गुरुवार की रात जक्कनपुर थाना क्षेत्र के वैद्यनाथ भवन के पास मौजूद एक्सिस बैंक के एटीएम को काटकर कैश चुराने की कोशिश में शातिर जुटे थे। गैस सिलेंडर की मदद से एटीएम काट रहे शातिरों पर जैसे ही थाना प्रभारी मुकेश वर्मा की नजर पड़ी, उन्होंने शातिरों की घेरेबंदी शुरू कर दी। पुलिस जब तक मौके पर पहुंचती, शातिर सिलेंडर व गैस कटर समेत अन्य उपकरण छोड़कर भाग निकले। पुलिस की इस मुस्तैदी के चलते एक्सिस बैंक के एटीएम से करीब 8 लाख रुपये चोरी होने से बच गया। पुलिस फरार शातिरों की तलाश में जुट गई है। 

गिरा दिया था शटर, नहीं था गार्ड
थाना प्रभारी के मुताबिक दो लुटेरे एटीएम के बाहर थे, जबकि दो शातिर शातिर अंदर में एटीएम काट रहे थे। एटीएम की रखवाली के लिए वहां कोई गार्ड नहीं दिखा। पुलिस व कैश निकालने आने वाले ग्राहकों को चकमा देने के लिए लुटेरों ने एटीएम के कमरे का शटर गिरा दिया था। इसी बीच गश्ती पुलिस की गाड़ी की लाइट एटीएम पर पड़ी। पुलिस को आता देख शातिर गैस कटर आदि छोड़कर पैदल ही गली के रास्ते भाग निकले। पुलिस ने दूर तक उनका पीछा भी किया लेकिन शातिर पकड़े नहीं जा सके।

सीसीटीवी का काट दिया था तार
पुलिस द्वारा की गई जांच में पता चला कि एटीएम में करीब 8 लाख रुपये बचे थे। जांच में पता है कि एटीएम में लगे सीसीटीवी कैमरे के तार को शातिरों ने काट दिया था। फिर भी पुलिस एटीएम के साथ आसपास लगे अन्य सीसीटीवी कैमरों का फुटेज खंगालते हुये शातिरों को चिह़्नित करने का प्रयास कर रही है। बैंक प्रबंधन का कहना था कि यदि जक्कनपुर पुलिस के पहुंचने में देर हुआ होता तो एटीएम काट रकम चुराकर शातिर भाग जाते। जक्कनपुर थाना प्रभारी मुकेश कुमार वर्मा ने बताया कि पुलिस एटीएम काटने वाले गैंग के शातिरों की तलाश में उनके संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है।

गार्ड है या नहीं, होगी जांच
थाना प्रभारी ने बताया कि एटीएम की सुरक्षा में गार्ड रखना अनिवार्य है। यदि एटीएम पर गार्ड होता तो शायद शातिर एटीएम काटने की हिम्मत नहीं जुटा पाते। एटीएम पर गार्ड की तैनाती है कि नहीं। यदि तैनाती की गई है तो गार्ड कहां था, इसकी गहन जांच की जाएगी।

Most Popular