गिरफ्तार ऑटो चालक के परिजनों व ग्रामीणों ने दरभंगा पुलिस की पिटाई से मौत का आरोप लगा किया हंगामा, दरभंगा एसएसपी बोले- बीमारी के कारण गई जान

गिरफ्तार ऑटो चालक के परिजनों व ग्रामीणों ने दरभंगा पुलिस की पिटाई से मौत का आरोप लगा किया हंगामा, दरभंगा एसएसपी बोले- बीमारी के कारण गई जान

कुढ़नी के ऑटो चालक पंकज महतो (25) की मौत पर गुरुवार  को कुढ़नी थाने पर दिन से शुरू हुआ बवाल रात तक चला। घंटों अफरातफरी मची रही। आक्रोशित परिजन और ग्रामीण दरभंगा पुलिस की पिटाई से मौत का आरोप लगा सिमरी थाने के पुलिस पदाधिकारी पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे। पटना से पंकज का शव आने के बाद बवाल और बढ़ गया। भीड़ थाने को घेर कार्रवाई का दबाव बनाती रही। इधर, दरभंगा पुलिस ने पिटाई के आरोप को निराधार बताया है।  
सूचना पर डीएसपी सरैया राजेश कुमार शर्मा पहुंचे। पंकज की पत्नी मंजू देवी ने उन्हें एक आवेदन दिया जिसमें सिमरी थाना के पुलिस पदाधिकारी को पति की मौत का आरोपित बनाया। डीएसपी सरैया ने मंजू के आवेदन को स्वीकार कर आगे की कानूनी कार्रवाई करने का भरोसा दिया। इसके बाद मामला शांत हुआ। रात दस बजे के बाद भीड़ शव को थाने से हटाकर दाह संस्कार के लिए गांव ले गये। एसएसपी जयंतकांत ने बताया कि इस मामले की जांच करायी जा रही है। मृतक की पत्नी ने सिमरी थाने के पदाधिकारी के खिलाफ आवेदन दिया है। मेडिकल व पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई होगी।

उधर,दरभंगा के एसएसपी बाबू राम ने पिटाई की बात से इंकार किया है। उन्होंने कहा है कि मौत बीमारी से हुई है। उसके सिर में ब्रेन टियूमर था। किडनी व लीवर भी खराब हो चुका था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मामले का स्वत: खुलासा हो जाएगा।

सर्विलांस ट्रैकिंग में पकड़ा गया था
पुलिस रिकार्ड के अनुसार, सिमरी थाना क्षेत्र से एक पिकअप की लूट हुई थी। सर्विलांस ट्रैकिंग में पंकज महतो पकड़ा गया था। इसके बाद सिमरी पुलिस ने कुढ़नी पुलिस की मदद से उसे 25 अगस्त की रात को घर से पकड़ कर ले गयी। अगले दिन जब परिजन थाने पहुंचे तो उनलोगों को वहां से डांट फटकार कर हटा दिया गया। जब फिर परिजन एक सितंबर को सिमरी थाना पहुंचे तो उनलोगों को बताया कि उसकी तबीयत खराब है। डीएमसीएच में भर्ती है। इसे बाद परिजन डीएमसीएच गये और बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच रेफर कराकर ले गए जहां गुरुवार को उसकी मौत हो गई।

 पत्नी ने मुजफ्फरपुर एसएसपी को भेजा आवेदन
 पंकज महतो की पत्नी मंजू देवी ने एसएसपी जयंतकांत को एक आवेदन भेजा है। इसमें दावा किया है कि उसके पति पंकज महतो की हत्या की गई है। पुलिसकर्मियों ने बेरहमी से पीटा है जो उसकी मौत का कारण बना। मंजू ने दावा किया है कि जिस रात कुढ़नी थाना के पुलिस दारोगा उसके घर आकर उसके पति को अपने साथ ले गए उस वक्त भी उसकी लाठी और बंदूक के कुंदे से पिटाई की। साथ ही परिजन को धमकी भी दिये कि ऐसी पिटाई करेंगे कि तुमलोगों की रूह कांप जाएगी। मंजू देवी ने अपने पत्र में दावा किया है कि पुलिसकर्मियों ने क्रोध में आकर उसकी संवेदनशील जगहों पर पिटाई की। इससे वह गंभीर रूप से जख्मी हो गया और गुरुवार की सुबह में जानकारी मिली कि उसकी मौत हो गई।