गांधी मैदान सीरियल बम ब्लास्ट की सोमवार से वर्चुअल मोड से होगी सुनवाई, अक्टूबर 2013 में बीजेपी की हुंकार रैली में हुआ था धमाका

gandhi maidan  blast in gandhi maidan  blast at patna junction  nia court patna  hearing in virtual

बीजेपी की हुंकार रैली के दौरान गांधी मैदान व पटना जंक्शन पर हुए सीरियल बम ब्लास्ट मामले की सुनवाई सोमवार से वर्चुअल मोड से शुरू होगी। यह चर्चित कांड अंतिम सुनवाई के लिए लंबित चल रही है। 

एनआईए कोर्ट पटना ने एनआईए के अभियोजन व बचाव पक्ष के वकीलों को अपनी अपनी बहस शुरू करने का निर्देश दिया है। वहीं दूसरी ओर बेऊर जेल के अधीक्षक को  कांड की सुनवाई की प्रत्येक तारीख पर कांड के सभी आरोपितों को जेल से वर्चुअल मोड के माध्यम से कोर्ट में पेश करने का निर्देश दिया है। गांधी मैदान सीरियल बम ब्लास्ट मामले की अंतिम सुनवाई जून 2018 से चल रही है। इन आरोपितों का बयान 2 नवंबर 2017 से लेकर 2 दिसंबर 2017 तक एनआईए कोर्ट ने दर्ज किया था। 

27 अक्टूबर 2013 को पटना के गांधी मैदान में बीजेपी की बहुचर्चित हुंकार रैली आयोजित की गई थी, जिसमें काफी भीड़ थी। इसी रैली के दौरान पटना जंक्शन के सुलभ शौचालय में बम विस्फोट हुआ था, जिसमें एक आरोपित बम विस्फोट में घायल हो गया और उसकी मौत इलाज के दौरान हो गई थी। इसके अलावा हुंकार रैली के दौरान पटना के गांधी मैंदान में सीरियल बम ब्लास्ट हुए थे। जिसमें कई लोग जख्मी हुए थे। 

इस मामले में एनआईए की टीम ने 31 अक्टूबर 2013 को एफआईआर दर्ज कर अनुसंधान शुरू की और हैदर अली समेत दस आरोपितों के खिलाफ एनआईए की अदालत में चार्जशीट दायर किया था। एनआईए ने सभी दस आरोपितों को गिरफ्तार किया जो न्यायिक हिरासत के तहत बेऊर जेल में हैं। इस दौरान जेल में बंद किसी भी आरोपित को जमानत नहीं मिल पायी है।