गांधी मैदान सीरियल बम ब्लास्ट के आरोपित वर्चुअल माध्यम से एनआईए कोर्ट में पेश

27                       2013

गांधी मैदान सीरियल बम ब्लास्ट मामले में सोमवार को एनआईए के वकील ने अभियोजन पक्ष की ओर से वर्चुअल माध्यम से अपनी बहस शुरू की। आरोपितों के वकील ने कोर्ट से कहा कि वर्चुअल माध्यम से सुनवाई होना संभव नहीं है क्योकि वर्चुअल का इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं है। 

वहीं, दूसरी ओर बेऊर जेल से इस कांड के सभी आरोपितों को वर्चुअल माध्यम से एनआईए कोर्ट में पेश किया गया। एनआईए कोर्ट ने इस कांड में सुनवाई के लिए अगली तिथि 9 सितंबर को निर्धारित की गई है। 

27 अक्टूबर 2013 को गांधी मैदान में भाजपा की हुंकार रैली के दौरान सीरियल बम ब्लास्ट और  पटना जंक्शन के सुलभ शौचालय में बम ब्लास्ट हुआ था। जिसमें कई लोग घायल हो गए थे। एक आरोपित की मौत बम विस्फोट में हो गई थी। इस कांड में दस आरोपित बेऊर जेल में न्यायिक हिरासत के तहत बंद हैं।