खुल रहीं साजिश की परतें, सुशांत के खाने में धोखे से ड्रग्स तो नहीं देते थे शौविक और सैमुअल?

sushant singh rajput death case  showik chakraborty and samuel miranda will be arrested in two hours

सुशांत सिंह राजपूत के प्रकरण में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने जिस शौविक चक्रवर्ती और पूर्व कर्मी सैमुअल मिरांडा को गिरफ्तार किया है उन पर पटना के राजीवनगर थाने में भी केस दर्ज करवाया गया था। उसी केस में रिया और उसके पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती के अलावा श्रुती मोदी का नाम भी है। 

सुशांत का परिवार पहले से ही इन लोगों पर शक होने का आरोप लगा रहा था। यह बात सामने आ रही थी कि गलत तरीके से दवा देकर इन लोगों ने सुशांत के खिलाफ साजिश रच दी। अब सवाल यह भी उठने लगे हैं कि क्या सुशांत के रुपये को रिया और उसका भाई महंगे और विदेशी ड्रग्स पर भी खर्च करते थे। कहीं ऐसा तो नहीं कि सुशांत के खाने से लेकर चाय तक में धोखे से ड्रग्स मिला लिया जाता था ताकि सुशांत का दिमाग काम न कर सके। 

उनके एक पूर्व कर्मी ने पहले ही यह खुलासा किया है कि सुशांत अक्सर अपने कमरे में सोया करते थे और रिया पार्टी करती थीं। ड्रग्स कनेक्शन सामने आने के बाद ये सभी चीजें लगभग सही साबित हो रही हैं। सुशांत के कुछ करीबियों ने यहां तक बताया कि उन्हें ड्रग्स लेने की आदत नहीं थी। रिया ने जानबूझकर सुशांत के ड्रग्स लेने की बात कही ताकि उन्हें बदनाम किया जा सके। सवाल यह भी है कि सुशांत की मौत के दिन या उससे पहले किसी ने  जहरीली ड्रग्स देने की साजिश तो किसी ने नहीं रच दी थी। 

शौविक और ड्रग्स डीलर के थे करीबी रिश्ते 
सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच के दौरान जिस तरह से रिया चक्रवर्ती  और उनके भाई शौविक चक्रवर्ती के बीच ड्रग्स को लेकर की गई चैट सामने आई है, उससे ये साफ हो गया है कि इस पूरे केस में ड्रग एंगल महज अफवाह नहीं है। नारकोटिक्स की टीम ने शुक्रवार को रिया के घर छापेमारी कर शौविक को पकड़ा  उससे यह बात स्पष्ट हो गयी है कि अहम सबूत हाथ लगे हैं। जांच की आंच रिया चक्रवर्ती तक भी पहुंच गयी है। यह बात भी सामने आयी है कि शौविक ओर सैमुअल लगातार ड्रग्स तस्करों से बातचीत किया करते थे।

ड्रग्स डीलर बासित परिहार शविक का बेहद करीबी था। वह अक्सर उसके घर आता-जाता था। यह खबर भी सामने आ रही है कि शौविक और बासित की मुलाकात बांद्रा स्थित एक फुटबॉल क्लब में हुई थी। इस क्लब में शौविक भी फुटबॉल खेलने के लिए जाया करता था। फुटबॉल क्लब में प्रैक्टिस के दौरान शौविक की बासित से दोस्ती हुई और दोनों के बीच ड्रग्स डीलिंग को लेकर बातचीत होने लगी। बातचीत इतनी गहरी हो गयी कि शौविक को बासित ड्रग्स की सप्लायी देने लगा। बासित के कुछ और दोस्तों को भी शौविक जानता है। पूछताछ के दौरान वह कई अहम खुलासे कर सकता है।