Homeमनोरंजनकंगना रनौत ने तुनिषा की मौत को बताया मर्डर, प्रधानमंत्री से की...

कंगना रनौत ने तुनिषा की मौत को बताया मर्डर, प्रधानमंत्री से की धोखेबाजों को तुरंत मौत देने की अपील

टीवी एक्ट्रेस तुनिषा शर्मा की मौत पर अब कंगना रनौत का रिऐक्शन आया है। उन्होंने इंस्टा स्टोरी पर लंबे पोस्ट लिखे हैं। इनके साथ में तुनिषा शर्मा नाम के हैशटैग यूज किए हैं। कंगना का मानना है कि ऐसी आत्महत्या के लिए कई लोग जिम्मेदार होते हैं और इसे मर्डर माना जाना चाहिए। प्यार के नाम पर उनका शोषण किया जाता है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि बहुविवाह, एसिड अटैक, महिलाओं के टुकड़े करने जैसे अपराधों पर सख्त कानून बनाएं। कंगना ने लिखा है कि ऐसे केसेज में बिना किसी ट्रायल के तुरंत मौत की सजा दे देनी चाहिए। 

प्यार में धोखा नहीं होता बर्दाश्त
कंगना ने लिखा है, एक महिला सबकुछ बर्दाश्त कर सकती है। प्यार, शादी, रिलेशनशिप या किसी प्रियजन को खोना भी। लेकिन वह यह कभी बर्दाश्त नहीं कर सकती कि उसकी लव स्टोरी में प्यार ही नहीं था। दूसरे इंसान के लिए उसका प्यार और कमजोरी बस शोषण के लिए ईजी टारगेट था। उसकी हकीकत पहले जैसी नहीं रह जाती क्योंकि दूसरा व्यक्ति जो इस रिश्ते में था उसे फिजकली और इमोशनली अब्यूज कर रहा था। 

उठ जाता है हर चीज से भरोसा
जब उस लड़की को यह सच्चाई पता चलती है तो उसकी हकीकत अपने आप आकार बदलने लगती है क्योंकि यह चीज उसे बहुत शॉकिंग तरीके से पता चलती है। हर घटना को वह प्यार और खूबसूरती से जोड़ने लगती है। उसके दिमाग में सारी चीजें फिर से चलने लगती हैं। कंगना आगे लिखती हैं कि उस लड़की का हर चीज से भरोसा उठ जाता है। उसे अपने परसेप्शन पर भी भरोसा नहीं रहता। उसे जिंदा या मुर्दा रहने में फर्क नहीं पता चलता। ऐसे में अगर वह अपनी जिंदगी खत्म करने का फैसला लेती है तो जान लें कि वह इसके लिए अकेली जिम्मेदार नहीं है। यह मर्डर है।

…ऐसे देश का होगा सर्वनाश
बहुविवाह में भी महिला की मर्जी शामिल नहीं होती, इसको भी क्रिमिनल ऑफेंस माना जाना चाहिए। किसी महिला की शारीरिक, मानसिक और इमोशनल सेहत की जिम्मेदारी लिए बिना उसका शारीरिक शोषण करना और बिना किसी वैलिड रीजन के अचानक छोड़ देना भी क्रिमिनिल ऑफेंस होना चाहिए। हमें अपनी बच्चियों का ध्यान रखना होगा। यह सरकार की जिम्मेदारी है कि वह फेमिनिन को समृद्ध बनाएं और उनकी रक्षा करें। जिस जगह महिलाएं सुरक्षित नहीं होतीं, उसका सर्वनाश हो जाता है। 

कंगना ने मांगी इमोशनल फ्रॉड के लिए सजा
मैं माननीय प्रधानमंत्रीजी से प्रार्थना करती हूं कि जैसे कृष्ण द्रौपदी के लिए उठे थे, राम सीता के लिए खड़े हुए, हम उम्मीद करते हैं कि आप बिना मर्जी के बहुविवाह, एसिड अटैक, महिलाओं के टुकड़े करने के खिलाफ कड़े कानून बनाएंगे। इसमें बिना किसी ट्रायल के तुरंत मौत की सजा होनी चाहिए। जैसे लीगल फ्रॉड, फाइनैंशियल फ्रॉड में ऐक्शन लिया जाता है वैसे ही इमोशनल फ्रॉड में भी होना चाहिए। कंगना लिखती हैं कि इमोशनल फ्रॉड को गॉसिप की तरह मजाक में क्यों उड़ा दिया दाता है। 

Most Popular