Homeबिहारइस रेलखण्ड में दोहरीकरण का काम हुआ काम, 130 किलोमीटर प्रति घण्टा...

इस रेलखण्ड में दोहरीकरण का काम हुआ काम, 130 किलोमीटर प्रति घण्टा की स्पीड से ट्रायल सफल…

देशभर में रेलवे को आधुनिकीकरण में तब्दील करने पर जोर दिया जा रहा है। इसके साथ ही प्रदेश में विद्युतीकरण पर भी काफी जोड़ दिया जाता है प्रदेश के जिस रेलवे रुट पर विद्युतीकरण नहीं किया गया है उसमें काफी तेजी से काम चल रहा है। इसके अलावा प्रदेश के जिन रूटों में दोहरीकरण का कार्य नहीं हुआ है, उस पर भी जोड़ों से काम चल रहा है। इसी बीच गोरखपुर और नरकटियागंज के बीच चमुआ – हरिनगर रेलखंड के दोहरीकरण और विद्युतीकरण का कार्य पूरा कर लिया गया। इसके बाद उस पर ट्रायल किया गया।

सीआरएस ने चमुआ से हरीनगर तक दोहरीकरण हुए नए रेल ट्रैक पर 130 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से ट्रायल किया, जिसे कार्यदायी संस्था के लोग पूरी तरफ से सफल बता रहें हैं। चमुआ-हरीनगर रेलखंड का रेल ट्रैक का दोहरीकरण व विद्युतीकरण काम पूरा होने के बाद सीआरएस ट्रायल हुआ। इसके लिए सीआरएम सुवोमय मित्रा एवं डीआरएम आलोक अग्रवाल के साथ इंजीनियरिंग विभाग के अधिकारी सुबह 8 बजे चमुआ स्टेशन पहुंचे थे।

रेल अधिकारियों ने बताया कि सुगौली- वाल्मीकि नगर रेलखंड में 110 किलोमीटर में दोहरीकरण परियोजना के अंतर्गत साठी -नरकटियागंज रेलखंड पर 11 किलोमीटर करणसर रेल यातायात प्रारंभ हो चुका है।

Most Popular