Homeबिहारइलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन में अव्वल बिहार , 26 जिलों में...

इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन में अव्वल बिहार , 26 जिलों में 75 चार्जिंग स्टेशन , जानिये किन किन जिलों तैयार हुआ चार्जिंग स्टेशन

राज्य में वायु प्रदूषण के स्तर को बढ़ता देख सरकार डीजल के वाहनों को पूर्ण रूप से बन्द कर दी है। वर्तमान में इसके विकल्प में इलेक्ट्रिक वाहन का क्रेज राज्य में काफी देखने को मिल रहा है। इसके साथ ही साथ राज्य सरकार भी इसको बढ़ावा दे रही है इस लोगों के प्रति इलेक्ट्रिक वाहन के क्रेज़ को बढ़ता देख चार्जिंग स्टेशन की भी संख्या बढ़ रही है वर्तमान में पूरे राज्य की बात करें तो पूरे बिहार में 32 चार्जिंग स्टेशन कार्य कर रहे हैं तो वही 75 चार्जिंग स्टेशन बन कर तैयार है। हालांकि इसका कार्य अभी शुरू नहीं हुआ है।

रोहतास( सासाराम) जिले में सबसे अधिक नौ चार्जिंग स्टेशन लग चुके हैं। इसके अलावा मुजफ्फरपुर में आठ, पटना में पांच, पूर्वी चंपारण 6, सुपौल 6 और समस्तीपुर में 6 चार्जिंग स्टेशन हैं। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन और पब्लिक सेक्टर की दो दूसरी पेट्रोलियम कंपनियां (बीपीसीएल और एचपीसीएल) का सूबे में 150 इवी चार्जिंग स्टेशन लगाने का काम पूरा हो चुका है। इनमें इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन सूबे में 75 चार्जिंग स्टेशन स्थापित कर चुकी है।

बिहार के इन जिलों में लग गए चार्जिंग स्टेशन
मिली जानकारी के अनुसार बता दे कि देश भर में सबसे ज्यादा इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन बिहार राज्य में ही स्थापित किए गए है। जिसमें बिहार का सासाराम में नौ वही मुजफ्फरपुर जिला में कुल आठ वही अगर पटना जिला की बात करें तो पटना जिला में 5 चार्जिंग स्टेशन वही पूर्वी चंपारण में 6 चार्जिंग स्टेशन और सुपौल जिला की बात की जाए तो सुपौल जिला में 6, समस्तीपुर जिला में 6 चार्जिंग स्टेशन स्थापित हुए हैं, आपको बता दूं कि सासाराम जिला में सबसे अधिक 9 चार्जिंग स्टेशन लग चुके हैं।

राजधानी के इस जगह चार्जिंग स्टेशन स्थापित किये है
इसमें पटना जिले में जहाँ जहाँ चार्जिंग स्टेशन स्थापित किये गए है। उसमे से सुमन ऋषि फ्यूलस (जहानाबाद), अर्जुन फ्यूल सेंटर (पाली), लगन गौरव किशन सेवा केंद्र (मसौढ़ी, धनरवा), मंजू पेट्रोलियम (मसौढ़ी) और विनायक सर्विसेज (कनपा) में इवी चार्जिंग स्टेशन तैयार हो चुका है।

Most Popular