HomeUncategorizedआप भी बन सकते हैं ईडी ऑफिसर, मिलेगी प्रवर्तन निदेशालय में नौकरी,...

आप भी बन सकते हैं ईडी ऑफिसर, मिलेगी प्रवर्तन निदेशालय में नौकरी, जानें पूरा प्रोसेस

भारत में प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी विशेष भूमिका निभाती है.  ईडी भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग के लिए काम करती है. यह एक संगठन हैं जो कि आर्थिक अपराधों (जैसे- धन शोधन यानि मनी लाँड्रिंग, आदि) और विदेशी मुद्रा कानूनों के उल्लंघन के मामलों की जांच करती है. प्रवर्तन निदेशालय की गतिविधियों और इस एजेंसी के कार्यों की विभिन्न समाचारों माध्यमों से लगातार बढ़ रही कवरेज के चलते ईडी में सरकारी नौकरी पाने इच्छा ज्यादातर युवाओं में होगी. इसलिए आपको इस खबर के माध्यम से प्रवर्तन निदेशालय में अधिकारी के तौर पर कैसे भर्ती होने से लेकर इसकी पूरी जानकारी देंगे.

ED AEO Recruitment: ऐसे होती है प्रवर्तन निदेशालय ईडी ऑफिसर की भर्ती
प्रवर्तन निदेशालय द्वारा विभिन्न ग्रुप (ए, बी और सी) के पदों पर भर्ती की जाती है. ग्रुप ए पदों पर प्रतिनियुक्ति के आधार पर भर्ती की जाती है और इनमें स्पेशल डायरेक्टर, एडिशनल डायरेक्टर, ज्वाइंट डायरेक्टर, डिप्टी डायरेक्टर, असिस्टेंट डायरेक्टर, आदि के पद शामिल हैं. वहीं, ईडी में ग्रुप बी के कुछ पदों पर प्रोन्नति यानि प्रमोशन से नियुक्त होती है तो कुछ के लिए सीधी भर्ती का आयोजन किया जाता है. इन्हीं में से एक है ग्रुप बी में सहायक प्रवर्तन अधिकारी यानि (Assistant Enforcement Officer – AEO) का पद, जिस पर भर्ती के लिए आमतौर हर साल कर्मचारी चयन आयोग (SSC) द्वारा चयन प्रक्रिया का आयोजन किया जाता है. वहीं, ग्रुप सी के पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया का आयोजन समय-समय निदेशालय द्वारा रिक्तियों के अनुसार किया जाता है.

ऐसे में, प्रवर्तन निदेशालय में सहायक प्रवर्तन अधिकारी के पर भर्ती के लिए उम्मीदवारों को एसएसी द्वारा हर साल आयोजित की जाने वाली संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा (CGLE) में सम्मिलित होना होगा. इस परीक्षा के माध्यम से एईओ की घोषित रिक्तियां निकाली जाती है. वर्ष 2021 की परीक्षा के लिए 83 पद, वर्ष 2022 के लिए 114 पद और वर्ष 2019 की परीक्षा के लिए 77 पद निकाले गए थे। हालांकि, वर्ष 2022 की सीजीएल परीक्षा की रिक्तियों की घोषणा अभी नहीं की गई है. विभिन्न चरणों के आधार सफल घोषित उम्मीदवारों को प्रशिक्षण के बाद AEO के तौर पर नियुक्ति दी जाती है. निर्धारित अवधि तक सेवा के बाद AEO की प्रोन्नति इन्फोर्समेंट ऑफिसर, असिस्टेंट डायरेक्टर, डिप्टी डायरेक्टर, ज्वाइंट डायरेक्टर, एडिशनल डायरेक्टर और स्पेशल डायरेक्टर के तौर पर होती है.

ED AEO Recruitment Qualification: ईडी ऑफिसर की भर्ती के लिए शैक्षिक योग्यता और आयु सीमा
ऐसे में ईडी में सहायक प्रवर्तन अधिकारी बनने के लिए इच्छुक उम्मीदवारों को एसएससी की सीजीएल परीक्षा में सम्मिलित होना होगा. इस परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए उम्मीदवारों को किसी मान्यता प्राप्त उच्च शिक्षा संस्थान से किसी भी विषय में स्नातक डिग्री उत्तीर्ण होना चाहिए. साथ ही, उम्मीदवारों की आयु AEO पद के 18 वर्ष से कम और 30 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए, जबकि कुछ अन्य पदों के लिए अधिकतम आयु सीमा 27 वर्ष होती है.  दूसरी तरफ, अधिकतम आयु सीमा में आरक्षित वर्गों (एससी, एसटी, ओबीसी, आदि) के उम्मीदवारों के केंद्र सरकार के नियमों के अनुसार छूट दी जाती है.

ED AEO Recruitment Selection Process: ईडी ऑफिसर की भर्ती के लिए चयन प्रक्रिया
ईडी में सहायक प्रवर्तन अधिकारी समेत विभिन्न पदों के लिए एसएसी द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षा के चरणों में टियर 1 कंप्यूटर आधारित परीक्षा (सीबीटी), टियर 2 कंप्यूटर आधारित परीक्षा (सीबीटी), टियर 3 लिखित परीक्षा (वर्णनात्मक प्रश्न) और टियर 4 कंप्यूटर प्रवीणता परीक्षा / डाटा एंट्री कौशल परीक्षा (जहां कहीं लागू हो) शामिल हैं. टियर 1 एक घंटे का होता है और इसमें सामान्य बुद्धिमत्ता एवं तर्कशक्ति, सामान्य जानकारी, परिमाणात्मक अभिरूचि और अंग्रेजी परिज्ञान विषयों से 25-25 बहुविकल्पीय प्रकृति के प्रश्न पूछे जाते हैं.  हर सही उत्तर के लिए 2 अंक मिलते हैं और हर गलत उत्तर के लिए 0.5 अंक काटे जाते हैं.

टियर 1 में प्रदर्शन के आधार पर सफल घोषित उम्मीदवारों को दूसरे चरण में टियर 2 सीबीटी में सम्मिलित होना होता है. इसमें भी बहुविकल्पीय प्रकृति के प्रश्न होते हैं जो कि परिमाणात्मक क्षमता (100 प्रश्न), अंग्रेजी भाषा और परिज्ञान (200 प्रश्न), सांख्यिकीय (100 प्रश्न) और सामान्य अध्ययन (वित्त व अर्थशास्त्र – 100 प्रश्न) विषयों से होते हैं। परीक्षा की अवधि 2 घंटे होती है. इस चरण में भी निगेटिव मार्किंग होती है जो कि पेपर के अनुसार 0.50/0.25 अंक होती है.

टियर 2 में सफल घोषित उम्मीदवारों को टियर 3 में लिखित परीक्षा में सम्मिलित होना होता है जिसकी अवधि 1 घंटा होती है. इसमें उम्मीदवारों को अंग्रेजी अथवा हिंदी में वर्णनात्मक प्रश्नपत्र हल करना होता है, जिसमें निबंध, सार, पत्र, आवेदन पत्र, आदि के लेखन करने होते हैं. सीजीएल परीक्षा के टियर 3 में सफल घोषित उम्मीदवारों को टियर 4 में कंप्यूटर प्रवीणता परीक्षा / डाटा एंट्री गति परीक्षा देनी होती है.

सभी चरणों में सफल घोषित उम्मीदवारों को दस्तावेज सत्यापन यानि डॉक्यूमेंट वेरीफिकेशन के लिए बुलाया जाता है. सभी चरणों के लिए एसएससी द्वारा सिलेबस परीक्षा अधिसूचना में उपलब्ध कराया जाता है. इसके अतिरिक्त उम्मीदवार पिछले वर्षों के प्रश्न-पत्र, अधिसूचना आदि को आधिकारिक वेबसाइट, ssc.nic.in से डाउनलोड कर सकते हैं.

 

Most Popular